अमृत गंगा S3-29

अमृत गँगा,सीजन ३ की २९वीं कड़ी: अम्मा सबको नव-वर्ष की शुभ कामनाएँ दे रही हैं। वो कामना करती हैं कि हम सबके लिए नया वर्ष और अधिक सुख, समृद्धि और शांति से भरा हो! वो हमें पहले से भी अधिक श्रद्धा व विवेक सहित जीने की याद दिला रही हैं। इस शुभ अवसर पर वो हमें और प्रार्थनामय होने को प्रोत्साहित कर रही हैं क्योंकि पूर्णता तो तभी आती है जब ईश्वर की कृपा आ जुड़ती है! अमृत गँगा की इस कड़ी में अम्मा की यात्रा स्विटज़रलैंड में जारी रहेगी और अम्मा जो भजन गाएँगी वो है: लोका: समस्ता: सुखिनो भवन्तु!

अमृत गंगा S3-28

अमृत गंगा,सीज़न ३ की २८वीं कड़ी में अम्मा हमें याद दिला रही हैं कि जीवन चक्र में चल रहा है। दिन के बाद रात और रात के बाद फिर दिन होता है। महीनों और ऋतुओं का चक्र होता है। सुख-दुःख चक्र से आते-जाते रहते हैं। समय चक्र में चलता है ताकि हमें स्वयं को सुधारने के,अपनी भूलें सुधार कर सत्कर्म करने के अवसर मिलें।

अमृत गंगा की प्रस्तुत कड़ी में, अम्मा की यात्रा स्विट्ज़रलैंड पहुंची है। अम्मा ने जो भजन गाया,वो है, ‘छोड़ दे मन से…’

अमृत गंगा S3-27

अमृत गंगा के सीज़न 3, एपिसोड 27 में, अम्मा कहती हैं कि अगर हम प्रयत्न करें, तो हम एक बेहतर व्यक्ति बन सकते हैं। यदि हममें से बहुत से प्रयास करें तो हम एक अधिक सुखी, न्यायपूर्ण और अधिक सुंदर विश्व का निर्माण कर सकते हैं।

अमृत गंगा की इस कड़ी में, अम्मा की यात्रा स्विट्जरलैंड में जारी है। अम्मा भजन गा रही हैं, गोपाला नाचो नाचो।

अमृत गंगा S3-26

अमृत गँगा सीज़न 3, 26 वीं कड़ी में अम्मा कह रही हैं कि जब भक्त गहन पीड़ा में रोते-चिल्लाते हैं तो अम्मा का दिल टूट जाता है। अम्मा सब कुछ भूल कर उन्हें अपने सीने से चिपका लेती हैं। वो ही तो उन्हें सांत्वना दे सकती हैं!

अमृत गंगा की इस कड़ी में, अम्मा की यात्रा नेदरलैंड पहुँच गई है। अम्मा भजन गा रही हैं, देवी माते..

अमृत गंगा S3-25

सीज़न ३,अमृत गँगा की २५वीं कड़ी में अम्मा ने कहा कि अक्सर हम ड्राइविंग करते समय, ‘सड़क पर काम चालू है’ – ऐसे साइन-बोर्ड लगे देखते हैं। इन्हें देख कर हम धैर्य के साथ ट्रैफ़िक का इंतज़ार करते हैं। उसी प्रकार, उन लोगों के साथ व्यवहार करते समय भी हमें धैर्य की आवश्यकता होती है, जो क्रोध, घृणा या अन्य विकारों को अभिव्यक्त करते हैं। हम कल्पना करें, जैसे उनके मन में भी सड़क-काम चालू है। धैर्य अपने आप आ जायेगा!

अमृत गंगा की इस कड़ी में,अम्मा की यात्रा का पड़ाव नेदरलैंड में है! अम्मा, ‘नंदलाला यदु नंदलाला..’ भजन गा रही हैं।